You are here
असंभव की रस्सियाँ …..! Impossible Personal Development 

असंभव की रस्सियाँ …..! Impossible

असंभव की रस्सियाँ …..! Impossible

दोस्तो …..हमारी life मे Impossible कुछ भी नहीं, असंभव शब्द इंसान ने ही बनाया हैं ।छोटी छोटी असफलताओं के कारण  हम अपनी life में wrong beliefs बना लेते हैं और इसी कारण हमे  बहुत से काम मुश्किल या असंभव लगने लगते है…………….असंभव की रस्सियाँ हमे जकड़ लेती हैं । इस छोटी सी कहानी के माध्यम से इस बात को समझना आसान होगा ………

download (33)

जब हाथी का बच्चा छोटा होता है तो महावत उसे एक पतली रस्सी से बांधता है…………. हाथी का बच्चा छोटा होने के कारण उस रस्सी को तोड़कर भाग नहीं सकता था । हाथी ने यह मान  लिया था, कि  इन रस्सियों से मुक्त होना असंभव है…………….. और इसी पर विश्वास बना लिया था। लेकिन जब वही हाथी  बड़ा और शक्तिशाली हो जाता है, तब  भी वह उसी पतली  रस्सी से बांधा  जाता है , जिसे वह अब आसानी से तोड़ सकता है , लेकिन वह उस रस्सी को तोड़ता नहीं है और आसानी से बंधा रहता हैं ।  ऐसा क्यूँ होता हैं …..??




 क्योंकि  बचपन की उन नाकाम कोशिशों  के कारण, हाथी के अंदर एक विश्वास पैदा हो जाता है की वह उन रस्सियों को नहीं तोड़ सकता और उसे Impossible  मान लेता है । ………..और जब वह हाथी बड़ा होता है , तो अद्भुत शक्ति होने के बाबजूद एक झूठे विश्वास के कारण  उन रस्सियों को तोड़ने की कोशिश ही नहीं करता जिन्हे, अब वह एक झटके मे तोड़ सकता था।




दोस्तों क्या आप यह जानते है की कौनसी असंभव की रस्सियां   आपको अपने लक्ष्य की ओर आगे बढ़ने से रोक रही है……??  कही आपको बचपन से लेकर आज तक मिली छोटी छोटी नाकामी, असफलताएं या नकारात्मक लोगो की आलोचनाओं  के कारण पैदा हुए झूठे  विश्वास या गलत मान्यताएँ  तो नहीं रोक रही…..??

आज ना जाने कितने लोग  इन झूठी असंभव की रस्सियों से जकड़े पड़े हैं और यह मान बैठे हैं, कि वह कभी सफल नहीं हो सकते हैं ।

 

अच्छी बात यह है कि आप हाथी नहीं है ……आप सोच सकते है ….आप बदल सकते है…. आप विश्वास कर सकते है .. आप दोबारा कोशिश करना शुरू कर सकते है  ! आपको “असंभव बातों” के बंधन मे  बंधे रहने की जरूरत नहीं है , क्योंकि  इन बातों का संबंध तो सिर्फ आपके विश्वास से है ।

Also read :

:Life Changing Motivational Books in Hindi

:सिर्फ सोचने से काम नहीं चलेगा |

: आत्मविश्वास | self confidence

दोस्तों आप में भी छमता हैं……जीतने की छमता हैं ….बस जरूरत है तो अपने बारे में  उन गलत विश्वासों को तोड़ने की । अगर हम मानते है और खुद पर विश्वास करते है कि हम कुछ भी कर सकते है तो हमारे लिए Impossible कुछ भी नहीं ।

आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे share ज़रूर करें,और www.kyakahengelog.com को subscribe करना न भूलें

दोस्तो, यदि आपके पास हिन्दी में कोई Inspirational Story या कोई सफलता की कहानी है जिससे किसी को प्रेरणा मिलती हो, तो उसे आप www.kyakahengelog.com की टीम को अपनी Photo , E-mail एवं Address के साथ इस  E-Mail ID  : kyakahengelog2@gmail.com पर भेज सकते है । जिसे आपके नाम व फ़ोटो के साथ KKL पर Publish किया जाएगा और इस तरह आप भी इस अभियान से जुड़ सकते हैं ।

 

 

Share This:

Related posts

Leave a Comment

shares